God Rebeats

Hindi Bhajan | Free Bhajan | Krishna Bhajan

चली जा रही है उम्र धीरे धीरे – विविध भजन

चली जा रही है उम्र धीरे धीरे – विविध भजन

chali ja rahi hai umar dheere dheere

 

चली जा रही है उम्र धीरे धीरे,
पल पल आठों पहर धीरे धीरे।

बचपन भी जाए, जवान भी जाए,
बुढापा का होगा असर धीरे धीरे॥

तेरे हाथ पावों में दम ना रहेगा,
झुकेगी तुम्हारी कमर धीरे धीरे॥

शिथल अंग होंगे सब इकदिन तुम्हारे,
फिर मंद होगी नज़र धीरे धीरे॥

बुराई से मन को तू अपने हटाले,
सुधर जाए तेरा जीवन धीरे धीरे॥

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

God Rebeats © 2015 Krishna Bhajan